दर्द से तड़प रही थी गर्भवती महिला, शेरों के झुंड के बीच बच्ची को दिया जन्म, तस्वीरें

गुजरात की कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है, दरअसल गुजरात के गढडा जिले के भाका गांव की रहने वाली महिला अफसाना सबरिश रफीक को रात करीब साढे दस बजे लेबर पेन शुरु हुआ, जिसके बाद उनके घर वालों ने 108 नंबर पर कॉल करके एंबुलेंस बुलाई, ताकि उन्होने डिलीवरी के लिये अस्पताल पहुंचाया जा सके।

शेरों ने रास्ता रोका

एंबुलेंस के पहुंचते ही महिला और उसके परिवार के लोग अस्पताल के लिये जल्दी से निकले, लेकिन गांव से कुछ दूर जाते ही गिर गढडा से उना के रास्ते में 4 शेरों के झुंड ने एंबुलेंस का रास्ता रोक लिया।  शेर गाड़ी के सामने ही खड़े हो गये, ऐसे में किसी ने भी भागने की हिम्मत नहीं की, महिला के बढते दर्द और खतरे को देखते हुए ईएमटी और पायलट ने सूझबूझ से काम लेते हुए रास्ते में ही महिला की डिलीवरी कराई। अफसाना ने एक बच्ची को जन्म दिया है।

एंबुलेंस का चक्कर लगाते रहे

इस पूरी घटना के दौरान चारों शेर वहीं पर रहे और बार-बार गाड़ी का चक्कर लगाते रहे, हालांकि किसी ने भी जोर आजमाइश की कोशिश नहीं की, जिसके बाद शेर वहां से चले गये, और एंबुलेंस के लोग बाल-बाल बच गये। फिर कुछ देर बाद एंबुलेंस वहां से अस्पताल के लिये आगे बढा।

अस्पताल में भर्ती

परिजनों ने बताया कि बच्ची के जन्म के कुछ देर बाद ही शेर वहां से चले गये, इसके तुरंत बाद एंबुलेंस ने मां और बच्ची को अस्पताल पहुंचाया, जहां जच्चा और बच्चा दोनों स्वस्थ्य बतायी जा रही है, फिलहाल दोनों को अस्पताल में ही रखा गया है, अफसाना के घर वाले नन्ही परी के आगमन से बेहद खुश हैं।

 

देश-विदेश की ताजा ख़बरों के लिए बस करें एक क्लिक और रहें अपडेट 

हमारे यू-टयूब चैनल को सब्सक्राइब करें :

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें :

कृपया हमें ट्विटर पर फॉलो करें:

हमारा ऐप डाउनलोड करें :

हमें ईमेल करें : [email protected]

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close