PM आवास योजना की ऑनलाइन किस्त जारी कर प्रधानमंत्री ने कमला देवी से पूछा ये सवाल…

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने बुधवार को उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) को एक बड़ा तोहफा दिया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने बुधवार को उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) को एक बड़ा तोहफा दिया। प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण के तहत आज (बुधवार) करीब 6 लाख लाभार्थियों को आर्थिक राशि जारी की गई है। केंद्र की ओर से 2022 तक हर गरीब को घर देने की योजना चलाई जा रही है, जिसके तहत ये मदद दी जा रही है। पीएम ने लाभार्थियों को पहली और दूसरी किस्त जारी की। इस दौरान पीएम मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र बनारस के पिंडरा ब्लाक रामनगर निवासी कमला देवी सहित खीरी, चित्रकूट, अयोध्या एवं सहारनपुर के लाभार्थियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग द्वारा वार्ता की। इस दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ भी ऑनलाइन कार्यक्रम से जुड़े रहे।

प्रधानमंत्री मोदी (Narendra Modi) ने रामनगर की कमला से बात करते हुए कहा कि ‘नमस्ते, बहुत दिन हो गए मैं काशी नहीं आ पाया हूं। आप लोग याद करते हैं कि नहीं। बताइए कि आपको घर मिल रहा है अब खुश है ना’। इस पर कमला ने घर मिलने से खुद का घर मिलने से खुशी जाहिर की। कमला से पीएम ने पूछा कि आप क्‍या काम करती हैं तो बताया कि स्‍वयं सहायता समूह के माध्‍यम से वह बकरी पालन करती हैं और दर्जनभर बकरियां वह समूह के माध्‍यम से काफी समय से पाल रही हैं और जीविकोपार्जन कर रही हैं। समूह से जुड़कर काम करने के फायदे भी उन्‍होंने पीएम को बताया। पीएम ने उनको शुभकामनाएं देने के साथ उनको घर मिलने और कार्य में प्रगति के लिए बधाई भी दी।

यह भी पढ़ें- फिरोजाबाद पुलिस पर आरोपी के परिजनों ने बरसाये ईंट पत्थर, सिपाही गंभीर

पीएम का सम्बोधन…

वहीं, प्रधानमंत्री (Narendra Modi) ने अपने सम्बोधन में कहा कि आप सभी को, खास तौर से माताओं बहनों को बहुत-बहुत बधाई। आपका अपना घर, सपनों का घर बहुत जल्द आपको मिलने वाला है। आज दशम गुरु श्री गुरु गोविंद सिंह जी का प्रकाश पर्व भी है। इस पवित्र अवसर पर मैं गुरु गोविंद सिंह जी के चरणों में प्रणाम करता हूं। मैं सभी देशवासियों को प्रकाश पर्व की हार्दिक बधाई भी देता हूं। गुरु गोविंद सिंह जी के दिखाए इस मार्ग पर देश आगे बढ़ रहा है। गरीब, पीड़ित, वंचित, शोषित की सेवा के लिए उनका जीवन बदलने के लिए आज देश में अभूतपूर्व काम हो रहा है। 5 वर्ष पहले मुझे उत्तर प्रदेश के आगरा से प्रधानमंत्री आवास योजना का शुभारंभ करने का सौभाग्य मिला था। इतने कम समय मे इस योजना ने देश के गांवों की तस्वीर बदलनी शुरू कर दी है। इस योजना के साथ करोडों लोगों की उम्मीदें और सपनें जुड़ें हैं।

पीएम मोदी (Narendra Modi) ने प्रधानमंत्री आवास योजना ने गरीब से गरीब को भी विश्वास दिलाया है कि हां, आज नहीं तो कल मेरा भी अपना घर हो सकता है। आज एक साथ यूपी के 6 लाख से ज्यादा परिवारों को सीधे उनके बैंक खाते में करीब-करीब 2,700 करोड़ रुपये ट्रांसफर की गई है। इनमें से 5 लाख से ज्यादा परिवार ऐसे हैं, जिन्हें घर बनाने के लिए उनकी पहली किस्त मिली है। आज 80 हजार परिवार ऐसे भी हैं, जिन्हें उनके मकान की दूसरी किस्त मिल रही है। अब आपके परिवार के लिए अगली सर्दी इतनी कठिन नहीं होगी। अगली सर्दी में आपका अपना घर भी होगा और घर में सुविधाएं भी होंगी।

पहले जो सरकारें रही, उस दौरान उत्तर प्रदेश में क्या स्थिति थी, ये आप सभी ने देखा है। गरीब को ये विश्वास ही नहीं था कि सरकार भी घर बनाने में उसकी मदद कर सकती है। जो पहले की आवास योजनाएं थीं, जिस तरह से घर उनके तहत बनाएं जाते थें, वो भी किसी से छिपा नहीं है। आत्मनिर्भर भारत का सीधा संबंध देश के नागरिकों के आत्मविश्वास से है। और घर एक ऐसी व्यवस्था और ऐसा सम्मानजनक तौफा है जो इंसान का आत्मविश्वास कई गुना बढ़ा देता है। देश ने आजादी के 75 वर्ष पूरे होने तक हर गरीब परिवार को पक्का घर देने का लक्ष्य तय किया था।बीते वर्षों में लगभग दो करोड़ घर सिर्फ ग्रामीण इलाकों में बनाए गए हैं। अकेले प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत भी करीब सवा करोड़ घरों की चाबी लोगों को दी जा चुकी है। इस पूरे अभियान की सबसे खास बात यह है कि जितने भी घर बन रहे हैं, सबके लिए पैसा सीधे गरीबों के बैंक खातों में दिया जा रहा है। किसी भी लाभार्थी को तकलीफ न हो, भ्रष्टाचार का शिकार न होना पड़े। केंद्र और UP सरकार मिलकर इसके लिए लगातार प्रयास कर रहे हैं।

आज योगी जी की सरकार की सक्रियता का परिणाम है कि यहां आवास योजना के काम की गति भी बदल गई और तरीका भी बदल गया है। यूपी में करीब 22 लाख ग्रामीण आवास बनाए जाने हैं। इनमें से 21.5 लाख घरों को बनाए जाने की स्वीकृति भी दी जा चुकी है। आज देश की कोशिश है कि मूलभूत सुविधाओं में गांव और शहर के बीच का अंतर कम किया जा सके। गांव में सामान्य मानवी के लिए भी जीवन उतना ही आसान हो जितना बड़े शहरों में है। प्रधानमंत्री आवास योजना को शौचालय, बिजली और पानी जैसी मूलभूत सुविधाओं से भी जोड़ा जा रहा है। बीते 4 वर्षों में उत्तर प्रदेश की सरकार ने केंद्र सरकार की योजनाओं को जिस तेजी से आगे बढ़ाया है, उससे UP को एक नई पहचान भी मिली है और नई उड़ान भी मिली।

ये भी पढ़ें-  अलीगढ़: सिर्फ बीस रुपये में मुफ्त इलाज ,1990 के बलवे के बाद रखी थी इस अस्पताल की नींव

 

देश-विदेश की ताजा ख़बरों के लिए बस करें एक क्लिक और रहें अपडेट 

हमारे यू-टयूब चैनल को सब्सक्राइब करें :

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें :

कृपया हमें ट्विटर पर फॉलो करें:

हमारा ऐप डाउनलोड करें :

हमें ईमेल करें : tahalkaexpres[email protected]

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button