किसान आंदोलन को लेकर सोनिया गांधी ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, बोलीं- अब समय…

कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी ने किसान आंदोलन को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोला है. सोनिया गांधी ने कहा है कि, किसान अपनी मांगों को लेकर पिछले 40 दिनों से दिल्ली बॉर्डर पर डटे हुए हैं और इस बीच 50 से अधिक किसानों की मौत हो गई लेकिन मोदी सरकार का न तो दिल पसीजा और न ही पीएम मोदी के मुंह से एक भी शब्द इन किसानों के लिए निकला.

कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने किसान आंदोलन को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोला है. सोनिया गांधी ने कहा है कि, किसान अपनी मांगों को लेकर पिछले 40 दिनों से दिल्ली बॉर्डर पर डटे हुए हैं और इस बीच 50 से अधिक किसानों की मौत हो गई लेकिन मोदी सरकार का न तो दिल पसीजा और न ही पीएम मोदी के मुंह से एक भी शब्द इन किसानों के लिए निकला.

सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने आगे कहा कि, आजादी के बाद देश के इतिहास में पहली बार बार ऐसी अहंकारी सरकार सत्ता में आई है जिसे आम जनता तो दूर देश का पेट भरने वाले अन्नदाताओं की पीड़ा और उनका संघर्ष दिखाई नहीं दे रहा है. ये सरकार चंद उद्योगपतियों को फायदा पहुंचाने वाले एजेंडे पर काम कर रही है.

ये भी पढ़े-मरने के बाद सबसे पहले यमराज के इस मंदिर में जाती हैं आत्माएं…

सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने कहा कि, अब समय आ गया है कि, सरकार सत्ता के अंहकार को छोड़कर बिना किसी शर्त के तीनों कृषि कानूनों को वापस ले और किसान आंदोलन को खत्म कराए यही राजधर्म है और मरने वाले किसानों के प्रति श्रद्धा भी.

कृषि कानून के विरोध में आंदोलन कर रहे किसानों का आज 39वां दिन है. सरकार के साथ अब तक किसानों की सात राउंड की मीटिंग हो चुकी है लेकिन अभी भी कोई हल नहीं निकला है. सातवें दौर की बैठक में दो मुद्दों पर सहमति बनने के बाद भी किसान आंदोलनरत हैं. किसानों ने कहा कि, 8वें दौर की 4 जनवरी को होने वाली बैठक में अगर कोई फैसला नहीं होता है तो आंदोलन और तेज होगा. वहीं कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला है.

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट के जरिए मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए लिखा है कि, ‘देश एक बार फिर से चंपारन जैसी त्रासदी झेलने जा रहा है। तब अंग्रेज कंपनी बहादुर था, अब मोदी-मित्र कंपनी बहादुर हैं। लेकिन आंदोलन का हर किसान-मजदूर सत्याग्रही जो अपना अधिकार लेकर रहेगा।

 

देश-विदेश की ताजा ख़बरों के लिए बस करें एक क्लिक और रहें अपडेट 

हमारे यू-टयूब चैनल को सब्सक्राइब करें :

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें :

कृपया हमें ट्विटर पर फॉलो करें:

हमारा ऐप डाउनलोड करें :

हमें ईमेल करें : [email protected]

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button