सैनिकों की शहादत पर अखिलेश ने खड़ा किया मोदी सरकार को कटघरे में, पूछा मौन व्रत क्यों ?

लखनऊ। पूर्व मुख्यमंत्री व सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सीमा पर सैनिकों की शहादत पर केंद्र सरकार को कठघरे में खड़ा करते हुए कहा कि फौजी शहीद हो रहे हैं। उनसे बेरहमी हो रही है। केंद्र सरकार चुप्पी साधे है। प्रधानमंत्री को इस पर सख्ती दिखानी चाहिये। ताकि देश सुरक्षित रहे और देश के अंदर लोग सुरक्षित रहें। सपा कार्यालय में कुछ मीडिया कर्मियों से यादव ने कहा कि कश्मीर भारत का हिस्सा है, यह बात वहां की जनता को समझानी होगी।

अखिलेश ने कहा कि यह भरोसा भी जगाना होगा कि उन्हें भारतीय नागरिकों को मिले सभी अधिकार हासिल हैं। देश की सेना बहादुर है। सैन्य कर्मियों व पुलिस कर्मियों की कमी भी नहीं है। भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि वह देश में जहर घोलती जाये और शांति बरकरार रहे, एक साथ यह कैसे संभव होंगी। पिछड़ा वर्ग आयोग को सांविधानिक दर्जा दिये जाने पर आरक्षण की नीति पर यादव ने कहा कि पहले नौकरी तो मिले।

पेट्रोल पंपों में घटतौली का धंधा कब से चल रहा है, यह पता लगाया जाना चाहिए। कब यह शुरू हुआ, यह कहा नहीं जा सकता है। आशंका जताई कि जो इंजीनियर पेट्रोल पंप की मशीन बनाते हैं। रिटायर होने के बाद उनमें से किसी ने इलेक्ट्रानिक चिप और रिमोट बनाए हों। धोखाधड़ी की देश व्यापी जांच होनी चाहिए। जो युवक इलेक्ट्रानिक चिप लगाने के आरोप में पकड़ा गया है, वह ज्यादा पढ़ा लिखा नहीं है। उसने कहीं से अच्छी ट्रेनिंग ली होगी। व्यापक जांच जरूरी है।

शहीद कैप्टन आयुष यादव के घर एक मेजर से बहस को शहीद के अपमान की संज्ञा दिये जाने पर अखिलेश ने कहा कि सेना के लोग परिवार से मिलने नहीं दे रहे थे। मेजर ने कहा अफसर अंदर हैं। उनके जाने के बाद जाइएगा। कितना इंतजार करना होगा, यह पूछने पर उसने कहा कि जब तक वो बैठे हैं। इसके कुछ देर बाद बिना पूछे मैं अंदर गया। वहां कहा भी था कि राजनीति करने नहीं आया। यह ऐसी बात नहीं थी, जिसे इस तरह से प्रचारित किया जाए।

 

देश-विदेश की ताजा ख़बरों के लिए बस करें एक क्लिक और रहें अपडेट 

हमारे यू-टयूब चैनल को सब्सक्राइब करें :

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें :

कृपया हमें ट्विटर पर फॉलो करें:

हमारा ऐप डाउनलोड करें :

हमें ईमेल करें : tahalkaexpressnews[email protected]

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button