नाले में पड़े मिले पुराने नोट, लेकर भागने लगे लोग

oteलखनऊ। लखनऊ में सुबह-सुबह सर्द और गहराती धुंध में निकले तो थे कूड़ा बीनने लेकिन कूड़े के ढेर में रद्दी की तरह बिखरे नोट मिल गए। फिर क्या था, जिसे जितने पुराने नोट मिल सके, वह लेकर भागने लगा। नोटों की जैसे लूट मच गई। महानगर, इंदिरानगर और गाजीपुर थाने की सीमा में पड़ने वाले कुकरैल नाले में कूड़े के ढेर में शुक्रवार को 1000 और 500 के पुराने नोट मिले। रुपये मिलने की सूचना मिलते ही आसपास की बस्ती के लोग टूट पड़े। लोगों के हाथ जितने रुपये लगे, उतने लेकर फरार हो गए।गौरतलब है कि पुराने नोट जमा कराने की अंतिम तारीख 30 दिसंबर है।

घटना की सूचना पर तीनों थानों की पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने कुकरैल नाले में इलाके के ही कुछ बच्चों को नोटों की तलाश में उतार दिया। पुलिस को नाले से कुछ नोट बरामद हुए। वहीं महानगर और इंदिरानगर थाने की पुलिस ने पांच घंटे सर्च ऑपरेशन चलाकर बस्ती में रहने वाले लोगों से 2.28 लाख रुपये बरामद किए हैं। रुपये मिलने का सिलसिला अब भी जारी है।

इंद्रप्रस्थ नगर से कुछ दूर कुकरैल नाले के पास बस्ती में रहने वाले बाबू, सैदुल, किस्मत और जस्मत समेत आधा दर्जन किशोर शुक्रवार सुबह कूड़ा बीनने के लिए निकले थे। नाले के पास बाबू के पैर से नोटों का बंडल टकराया। नोट मिलने की सूचना मिलते ही बस्ती के लोग नाले में कूद पड़े। दर्जनों महिलाएं, पुरुष और बच्चे नाले में नोट तलाशने लगे। नाले में 1000 और 500 के काफी नोट मिले। जिसके हाथ में जितने रुपये लगे उठाकर भाग गया।
एक किशोर के हाथ में काला बैग लगा। बैग में 1000 अैर 500 के काफी नोट थे। किशोर बैग लेकर भाग गया। इसी दौरान करीब 11:30 बजे किसी ने यूपी-100 को घटना की सूचना दी। सूचना के कुछ देर बाद ही महानगर, गाजीपुर और इंदिरानगर पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने मौके पर मौजूद जैदुल इस्लाम को नाले में उतार दिया। इस पर नाले से करीब 6 हजार रुपये बरामद हुए। इस पर एक युवक ने पुलिस को बताया कि बहुत से लोग नोट लेकर भाग गए हैं। इस पर पुलिस ने बस्ती में रहने वाले लोगों को रुपये वापस देने की चेतावनी दी। कुछ लोग खुद ही रुपये लेकर पुलिस के पास पहुंच गए। बाद में पुलिस ने एक-एक झोपड़ी की तलाशी लेनी शुरू की। पुलिस को हर झोपड़ी से रुपये मिले। एएसपी ट्रांसगोमती दुर्गेश कुमार के मुताबिक, महानगर पुलिस को एक लाख 6 हजार, इंदिरानगर पुलिस को 1.22 लाख रुपये बरामद हुए। पूछताछ में पता चला कि किसी ने नाले में दो बोरे और दो काले स्कूली बैगों में रुपये भरकर फेंके थे।

बस्ती में रहने वाले अधिकतर पुरुष काम पर चले गए थे। झोपड़ी में महिलाएं ही मौजूद थीं। ऐसे में सर्च ऑपरेशन चलाने के लिए महिला कॉन्सटेबल को बुलाया गया। उनकी मदद से झोपड़ियों की तलाशी ली गई।

कुकरैल नाले में 1000 और 500 के पुराने नोट मिलने के मामले को पुलिस महानगर कोतवाली के पास बैंक ऑफ इंडिया की कैश वैन से एक करोड़ रुपये गायब होने की वारदात से जोड़ कर भी देख रही है। नाले में फेंके गए नोट सीरीज में नहीं है।

 

देश-विदेश की ताजा ख़बरों के लिए बस करें एक क्लिक और रहें अपडेट 

हमारे यू-टयूब चैनल को सब्सक्राइब करें :

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें :

कृपया हमें ट्विटर पर फॉलो करें:

हमारा ऐप डाउनलोड करें :

हमें ईमेल करें : tahalkaexpressnews[email protected]

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button